प्रधानमंत्री ने बिहार में पेट्रोलियम क्षेत्र से जुड़ी तीन प्रमुख परियोजनाएं राष्ट्र को समर्पित कीं, कहा-गैस आधारित उद्योग और पेट्रो कनेक्टिविटी से पूर्वी भारत में और विकास होगा | Daily Current Affairs 2021
onwin giriş

प्रधानमंत्री ने बिहार में पेट्रोलियम क्षेत्र से जुड़ी तीन प्रमुख परियोजनाएं राष्ट्र को समर्पित कीं, कहा-गैस आधारित उद्योग और पेट्रो कनेक्टिविटी से पूर्वी भारत में और विकास होगा

Posted by
Subscribe for News Feed

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज बिहार में पेट्रोलियम क्षेत्र से जुड़ी तीन प्रमुख परियोजनाएं वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए राष्ट्र को समर्पित कीं। ये परियोजनाएं हैं- पारादीप-हल्दिया-दुर्गापुर पाइपलाइन विस्तार वाला दुर्गापुर-बांका खंड और पूर्वी चंपारण तथा बांका में रसोई गैस सिलेंडर भरने वाले दो संयंत्र। 

पूर्वी चंपारण और बांका के एलपीजी बॉटलिंग संयंत्रों की संयुक्त क्षमता प्रतिदिन अस्सी हजार सिलैण्डर भरने की है। बांका संयंत्र से बिहार के भागलपुर, बांका, अरडिया, जमुई, किशनगंज तथा कटिहार और झारखंड के गोड्डा, देवघर, दुमका, साहिबगंज तथा पाकुड जिलों की जरूरतें पूरी की जा सकेंगी।

पूर्वी चंपारण संयंत्र बिहार के पश्चिमी तथा पूर्वी चंपारण, सीवान, गोपालगंज तथा सीतामढी और उत्तर प्रदेश के कुशीनगर के पांच लाख से अधिक उपभोक्ताओं की आवश्यकताएं पूरी करेगा। 

इस अवसर पर अपने भाषण में प्रधानमंत्री ने कहा कि गैस आधारित उद्योग और पेट्रोलियम पदार्थों की आसान उपलब्धता से पूर्वी भारत और बिहार के विकास को बढ़ावा मिलेगा। उन्होंने कहा कि नौ सौ करोड़ रुपए की इन परियोजनाओं से बड़ी संख्या में रोजगार के अवसर भी पैदा होंगे। श्री मोदी ने कहा कि गैस उपलब्ध हो जाने से इस इलाके में नए उद्योग धंधे खुलेंगे और बांका और पूर्वी चंपारण के रसोई गैस भरने वाले संयंत्रों में हर साल एक करोड़ पच्चीस लाख गैस सिलेंण्डर भरे जा सकेंगे। 

प्रधानमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री ऊर्जा गंगा योजना के अंतर्गत सात राज्यों को तीन हजार किलोमीटर लंबी गैस पाइप लाइनों से जोड़ा जाएगा। 

बांका संयंत्र पर एक सौ 31 करोड 75 लाख करोड रुपये की लागत आई है, जबकि पूर्वी चंपारण संयंत्र पर एक सौ 36 करोड चालीस लाख रुपये खर्च हुए हैं। इन दोनों संयंत्रों की स्थापना प्रधानमंत्री उज्जवला योजना के तहत की गई है। बिहार में बांका और पूर्वी चंपारण जिलों में एल पी जी बॉटलिंग प्लांट शुरू होने पर लोगों ने प्रसन्नता व्यक्त की है। मोतीहारी के हरसिद्धी के निवासी सुनील मणि तिवारी ने कहा कि अब इस क्षेत्र के लोग रसोई गैस सिलेण्डरों को प्राप्त करने में कोई समस्या महसूस नहीं करेंगे।

श्री मोदी ने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की प्रशंसा करते हुए कहा कि वे बिहार को प्रगति के मार्ग पर आगे बढ़ाने के लिए अच्छा कार्य कर रहे हैं। श्री मोदी ने कहा कि श्री नीतीश कुमार ने उनके नए भारत और नए बिहार के निर्माण के उद्देश्य की दिशा में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। 

इस अवसर पर श्री नीतीश कुमार ने कहा कि कोरोना काल के दौरान प्रधानमंत्री उज्जवला योजना से ग्रामीण महिलाओं को बड़ी मदद मिली है। उन्होंने महिलाओं के उत्थान के लिए कार्य करने के लिए प्रधानमंत्री का आभार व्यक्त किया।

केन्द्रीय मंत्री धर्मेन्द्र प्रधान, मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी ने भी लोगों को संबोधित किया।

Source: News On Air

Subscribe for News Feed