डायरेक्ट सेलिंग कंपनियों (Direct Selling Companies) को विनियमित करने के लिए मसौदा मानदंड अधिसूचित किये गये | Daily Current Affairs 2021
1xbet 1xbet bahisno1 bahsegel casino siteleri ecopayz güvenilir bahis siteleri canlı bahis siteleri iddaa marsbahis marsbahis marsbahis marsbahis marsbahis marsbahis marsbahis marsbahis marsbahis marsbahis marsbahis marsbahis restbet canlı skor süperbahis mobilbahis marsbahis marsbahis marsbahis marsbahis

डायरेक्ट सेलिंग कंपनियों (Direct Selling Companies) को विनियमित करने के लिए मसौदा मानदंड अधिसूचित किये गये

Posted by
Subscribe for News Feed
Direct Selling Companies

सरकार ने भारत में उपभोक्ताओं के हितों की रक्षा के लिए एमवे (Amway) और टपरवेयर (Tupperware) जैसी डायरेक्ट सेलिंग फर्मों को विनियमित करने के लिए एक मसौदा मानदंड अधिसूचित किया है।

मुख्य बिंदु

  • इन नियमों के तहत इन डायरेक्ट सेलिंग फर्मों को पिरामिड (pyramid) और मनी सर्कुलेशन स्कीम (money circulation scheme) पेश करने की अनुमति नहीं होगी।
  • केंद्रीय उपभोक्ता मामलों के मंत्रालय ने उपभोक्ता संरक्षण (प्रत्यक्ष बिक्री) नियम, 2021 तैयार किया है।
  • 2016 में, मंत्रालय ने ऐसी डायरेक्ट सेलिंग फर्मों या कंपनियों के लिए दिशानिर्देश निर्धारित किए थे।

नए नियम क्या हैं?

  • नए मसौदे के नियमों के उल्लंघन के लिए दंड का प्रस्ताव है।
  • नए नियमों के अनुसार, डायरेक्ट सेलिंग कंपनियों को पिरामिड स्कीम और मनी सर्कुलेशन स्कीम को बढ़ावा देने से प्रतिबंधित कर दिया गया है।
  • डायरेक्ट सेलिंग कंपनियों को पंजीकरण संख्या प्राप्त करने के लिए प्रासंगिक भारतीय कानूनों के तहत और उद्योग और आंतरिक व्यापार संवर्धन विभाग (DPIIT) के साथ खुद को पंजीकृत करना होगा।
  • इन कंपनियों का भारत में पंजीकृत कार्यालय के रूप में न्यूनतम एक भौतिक स्थान होना चाहिए।
  • इन कंपनियों को कानून प्रवर्तन एजेंसियों के साथ समन्वय के लिए मुख्य अनुपालन अधिकारी, शिकायत निवारण अधिकारी और एक नोडल संपर्क व्यक्ति नियुक्त करना आवश्यक है।
  • इन कंपनियों को उपभोक्ताओं के लिए इकाई के सभी विवरण, संपर्क जानकारी, मूल्य, उत्पाद जानकारी और शिकायत निवारण तंत्र के साथ उचित और अपडेटेड वेबसाइट बनाए रखने की आवश्यकता है।
  • उन्हें KYC सत्यापन आवश्यकताओं के साथ इसके प्रत्यक्ष विक्रेताओं को उचित पहचान पत्र और दस्तावेज भी जारी करने चाहिए।उन्हें दोषपूर्ण या नकली सामान की पेशकश करने वाले सभी प्रत्यक्ष विक्रेताओं का रिकॉर्ड रखना होगा।
  • डायरेक्ट सेलर्स को रेगुलेट करने के लिए ड्राफ्ट रूल में प्रस्ताव है कि सेलर्स बिना पहचान पत्र और पूर्व अपॉइंटमेंट या मंजूरी के उपभोक्ता के परिसर में नहीं जाएंगे।
  • कोई भी व्यक्ति जो ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म द्वारा डायरेक्ट सेलिंग इकाई का कोई उत्पाद या सेवा बेचता है, उसे डायरेक्ट सेलिंग इकाई से पूर्व लिखित सहमति लेनी होगी।

पिरामिड योजना क्या है?

पिरामिड योजना में ग्राहकों का एक बहुस्तरीय नेटवर्क है जो किसी भी लाभ को प्राप्त करने के लिए एक या एक से अधिक ग्राहकों को नामांकित करने वाले ग्राहकों द्वारा बनाया जाता है। इस योजना के तहत अतिरिक्त ग्राहकों का नामांकन करते समय प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से लाभ प्राप्त होता है।

Source: GK Today

Subscribe for News Feed