उपराज्यपाल ने एनडीएमसी मुख्यालय में एकीकृत कमांड और कंट्रोल केंद्र का किया उद्घाटन | Daily Current Affairs 2021
onwin giriş

उपराज्यपाल ने एनडीएमसी मुख्यालय में एकीकृत कमांड और कंट्रोल केंद्र का किया उद्घाटन

Posted by
Subscribe for News Feed

दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल ने नई दिल्ली नगरपालिका परिषद यानि एनडीएमसी के मुख्यालय पालिका केंद्र में नवनिर्मित एकीकृत कमांड और कंट्रोल केंद्र का उद्घाटन वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से किया. इस अवसर पर वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से नई दिल्ली की सांसद मीनाक्षी लेखी और नई दिल्ली नगरपालिका परिषद के अध्यक्ष धर्मेंद्र भी उपस्थित रहे. इस अवसर पर उपराज्यपाल ने नई दिल्ली के मंदिर मार्ग पर पालिका परिषद द्वारा पुनर्विकसित शेरा मैदान खेलकूद परिसर का भी उद्घाटन किया.

एनडीएमसी के एकीकृत कमान और नियंत्रण केंद्र का उद्घाटन करने के बाद उपराज्यपाल ने कहा कि यह नए डिजिटल युग में नागरिक सेवाओं की पहुंच और डिलिवरी की निगरानी और ट्रैकिंग में सुधार करने के लिए नई टेक्नोलॉजीज का एक स्मार्ट पैकेज है. उन्होंने सुझाव दिया कि नागरिकों के हित में निरंतर उपयोगी उचित प्रदर्शन के लिए इन उच्च तकनीकी परिसंपत्तियों का रख-रखाव नागरिक निकाय द्वारा सुनिश्चित किया जाना अत्यंत आवश्यक है.

उपराज्यपाल ने पालिका परिषद अध्यक्ष को सुझाव दिया कि वे दिल्ली के अन्य नगर निकायों और एजेंसियों जैसे कि एमसीडी के प्रमुखों को इस तकनीकी विचार को दिल्ली के दूसरे हिस्से में लागू करने के लिए दिखाने को बुलाए.

उन्होंने नई दिल्ली के मंदिर मार्ग में शेरा मैदान स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स की उच्च मानक सुविधाओं से भी प्रभावित होकर कहा कि यह खेलकूद परिसर किसी भी नागरिक की फिटनेस के लिए ही केवल महत्वपूर्ण सुविधा नही है, बल्कि उच्च गुणवत्ता वाले खिलाड़ी बनाने के लिए भी एक उपयोगी सुविधा सिद्ध होगी.

पालिका केंद्र में एकीकृत कमान और नियंत्रण केंद्र के सफलतापूर्वक संचालन की शुरुआत करने के लिए पालिका परिषद की पूरी टीम को बधाई देते हुए मीनाक्षी लेखी ने कहा किया कि यह हमारे माननीय प्रधानमंत्री जी के सपने के अनुसार स्मार्ट सिटी बनाने के लिए देश की राजधानी में एक अनूठा तकनीकी कदम है. उन्होंने यह भी कहा कि यह स्मार्ट कदम अब स्मार्ट तरीके से नागरिक सेवाओं की डिलीवरी की निरंतर निगरानी और ट्रैकिंग के लिए एक बेहद उपयोगी उपकरण के रूप में काम करेगा.

लेखी ने यह भी कहा कि इस परियोजना का प्राथमिक उद्देश्य नागरिक सेवाओं की दक्षता में वृद्धि, सुरक्षा और संरक्षा को बढ़ाना और निवासियों के लिए जीवन की बेहतर गुणवत्ता को बढ़ावा देकर इनके प्रशासन में उपयुक्त सुधार करना भी है.

नई दिल्ली नगरपालिका परिषद के अध्यक्ष धर्मेंद्र ने इस केंद्र का उद्घाटन होने के उपरांत कहा कि हमारे लिए एक गौरव का विषय है कि दिल्ली के सभी नागरिक निकायों में अपनी किस्म का सर्वप्रथम ऐसा कमांड और कंट्रोल केंद्र पालिका परिषद द्वारा स्थापित किया गया है. स्मार्ट सिटी मिशन के तहत रुपये 65 करोड़ की लागत से एकीकृत पटल पर एकल स्थान से कई सेवाओं के प्रबंधन के लिए इस कमान और नियंत्रण केंद्र (ICCC) की स्थापना की गई है.

धर्मेंद्र ने आगे कहा कि प्रथम चरण में 19 से अधिक पालिका परिषद की सेवाओं जैसे – ठोस कूड़ा प्रबंधन, स्ट्रीट लाइटिंग, पार्किंग, सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट्स, इलेक्ट्रिक और वॉटर बिलिंग आदि को इस प्लेटफॉर्म पर एकीकृत किया गया है. उन्होंने कहा कि यह डिजिटल स्क्रीन के ग्लास के सिंगल पेन पर इन सेवाओं का वास्तविक समय के अनुसार डेटा और उसका ऐतिहासिक डेटा प्रदान करने में मदद करेगा, जो इन सेवाओं को उपयोगी बनाने में प्रशासन के लिए सहायक सिद्ध होगा.

उन्होंने यह भी कहा कि इसमे अभी और अन्य सेवाओं को दूसरे चरण में जोड़ा जाएगा. मेसर्स एल एंड टी ने आईओटी के क्षेत्र में नवीनतम प्रौद्योगिकी का उपयोग करते हुए मजबूत आईसीटी के बुनियादी ढांचे से एनडीएमसी के लिए इस एकीकृत कमांड और नियंत्रण केंद्र को स्थापित करके चालू किया है.

पालिका परिषद के अध्यक्ष धर्मेंद्र ने विस्तार से बताया कि उच्च टेक्नोलॉजी से सुसज्जित यह केंद्र नई दिल्ली क्षेत्र में व्यापक रूप से तैनात कई अनुप्रयोगों और सेंसर की जानकारी एकत्र करके पालिका परिषद में निर्णय निर्माताओं के लिए एक उपयुक्त परिदृश्य के साथ कार्रवाई योग्य जानकारी प्रदान करेगा.

धर्मेंद्र ने आगे कहा कि इस एकीकृत डेटा और उनके अनुकूलन योग्य विश्लेषण का कमांड सेंटर पर निगरानी और मॉनिटर कार्य चौबीसों घंटे और सातों दिन (24X7) जारी रहेगा और यहां सारी सूचनाएं, जानकारी और स्टेटस एक ही सिंगल डैशबोर्ड के माध्यम से एक्सेस किये जा सकेंगे. उन्होंने यह भी बताया कि यह केंद्र एनडीएमसी को किसी एक विषय या क्षेत्र के बारे में या किसी संकट की घड़ी में स्थिति से निपटने के लिये कई विभागों या एजेंसियों को तेजी से निर्णय लेने और एक साथ एकसूत्री कार्यवाही करने में सक्षम बनाएगा.

आज ही हुए शेरा मैदान खेलकूद परिसर के उद्घटान के बारे में धर्मेंद्र ने विस्तार से बताया कि नई दिल्ली क्षेत्र में मनोरंजन और खेलकूद सुविधाएं प्रदान करने के लिए मंदिर मार्ग पर पालिका परिषद द्वारा रुपये 3.21 करोड़ की लागत से पुनर्विकसित किए गए शेरा मैदान स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स में एक सिंथेटिक फुटबॉल फील्ड, दो सिंथेटिक लॉन टेनिस कोर्ट, जॉगिंग ट्रैक और आउटडोर जिमनैजियम विकसित किए गए हैं. सिंथेटिक फुटबॉल मैदान की यह सुविधा 4599 वर्ग मीटर के आकार वाले उच्च मानकों के अनुरूप विकसित की गई है.

Source: DD News

Subscribe for News Feed